Indian search engine | क्या भारत के पास अपना कोई सर्च इंजन है?

जब भी हम Search engine की बात करते है, तो पहला नाम Google का आता है। Google, Yahoo, Bing, Yandex Search engine ने पूरा worldwide digital market पर सालों से कब्जा किया हुआ है। Search engine के digital market में competition इतना ज्यादा है कि बड़ी-बड़ी कंपनियां अपना सर्च इंजन launch करने से डरती हैं।

Google एक American सर्च इंजन है। America वाले Google का इस्तेमाल करते हैं। चीन वाले अपने स्वदेशी सर्च इंजन “Baidu” का और रूस वाले भी अपने देश में निर्मित सर्च इंजन “Yandex” का उपयोग करते हैं। 

मगर क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर भारत के पास अपना कोई Indian search engine क्यों नहीं है? क्या India ने कभी अपना खुद का सर्च इंजन बनाने की कोशिश नहीं की या कभी कोई search engine बनाया या नहीं ? अगर आप इन सभी Question के answer जानना चाहते है तो इस पोस्ट को अंत तक पढिए, क्योंकि यहाँ आपको details में हमने बताया है कि क्यों भारत के पास अपना कोई पॉपुलर search engine नहीं है?

India search engine market share

india search engine share market

अब आप इतने से अंदाजा लगा सकते है, और Bing, Yahoo search engine का market share देख सकते है, जबकि ये दोनों search engine Microsoft का है। 

क्या भारत के पास अपना कोई सर्च इंजन है? (Why India Doesn’t Have Its indian Search Engine)

जी हाँ, भारत के पास भी Google के जैसे ही search engine available हैं मगर वे अधिक developed नहीं हैं जिस कारण वे लोगों के बीच बहुत ज्यादा popular नही हैं और यही कारण है कि बहुत ही कम लोग उनके बारे में जानते हैं। 
जैसा कि हममें से बहुत लोग जानते हैं कि भारत में Internet की शुरुआत develop country के compare में काफी देर से हुई। develop country जैसे अमेरिका और देशों में तो 1990 के दशक से ही इंटरनेट और

 

सर्च इंजनों का दौर शुरू हो गया था September 4, 1998 को Google search engine launch हुआ और जबकि भारत में यह दौर बड़े पैमाने 2005 के बाद शुरू हुआ। इस वक्त तक विदेशी इंटरनेट कंपनियां मजबूती से भारतीय इंटरनेट बाजार में अपने पैर जमा चुकी थी, जिस वजह से छोटी-छोटी भारतीय कंपनियों को विस्तार करने का बहुत ज्यादा मौका नहीं मिल पाया और वे बहुत आगे तक नहीं जा सकी। 
 

Indian Internet Search Engine List in Hindi

Epic Search 

epic search

यह सर्च भारत में तो नहीं बना है लेकिन भारतीय लोगों को ध्यान में रखकर बनाया गया है। यह दूसरे भारतीय सर्च इंजनों से काफी advanced है और काफी अच्छी तरह से काम करता है। इसे आलोक भारद्वाज ने 2010 में बनाया था और उनका Epic Browser नाम का एक ब्राउजर भी है जो बहुत ही ज्यादा privacy centric है।

Guruji.com

भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान दिल्ली से graduated दो स्टूडेंट्स अनुराग डोड और गौरव मिश्रा ने 2006 में एक साथ मिलकर भारत के पहले बड़े सर्च इंजन guruji.com को लॉन्च किया था। 
 
अमेरिका की मशहूर funding company सिकोलिया कैपिटल्स से 7 million dollar का फंड लेकर उन्होंने यह सर्च इंजन स्थापित किया। इसमें वे लोगों को music और artist सर्च करने का ऑप्शन भी देते थे। कुछ साल चलने के बाद 2011 में इस सर्च इंजन को कुछ कारणों से बंद कर दिया गया। 
 

123 Khoj

123 khoj search engine

123खोज.कॉम  एक भारतीय सर्च है जो 2014 में स्थापित हुआ था और आज भी काम कर रहा है। 
इसका इंटरफेस गूगल से काफी हद तक मिलता है मगर इसका standard बिल्कुल भी नहीं। यह बहुत ही cheap रिजल्ट्स दिखाता है। इस सर्च इंजन का हेड क्वार्टर चंडिगढ़ में है। 
 

13 Tabs

धनबाद के रहने वाले दो इंजीनियर भाइयों सागर और वरुण मिश्रा ने 3 साल की कड़ी मेहनत के बाद 2016 में 13Tabs.com के नाम से इस indigenous search engine को लॉन्च किया।

बड़े भाई सागर ने जयपुर से Electronics & Telecommunication में B.Tech किया है। इंजीनियरिंग की पढ़ाई के दौरान उन्हें एक Indian Search Engine बनाने का ख्याल आया। उसी वक्त उनके छोटे भाई वरुण ने भी अपनी इंजीनियरिंग खत्म की और इसके बाद से ही दोनों भाई इस सर्च इंजन को बनाने में जुट गए।

साल 2016 में launching के समय इस सर्च इंजन में 7 करोड़ से ज्यादा webpages मौजूद थे, जिनकी संख्या में आज कई गुना बढ़ गई है। सर्च इंजन बनाने के दौरान इन दोनों भाइयों के 3 कंप्यूटर क्रैश हो गए थे।

 

Leave a Comment